नया साल प

नया साल प दिया दीं, पिया जी चुनरी
नया साल प।
चुनरी दियाइ दीं, किनवाइ दीं पियरी
नया साल प।

पिछिलका बरीसवा रहल ह बड़ी भारी
कारी कारी बदरिन के रहल सोर जारी
अब जाके फटली, बलम जी बदरी
नया साल प।

मईहर आ मथुरा बिन्हाचल घुमवाई दीं
बाबा बिस्वनाथ जी के दर्शन कराई दीं
तब जाके पपवा, बलम जी उतरी।
नया साल प।

टिप्पणियाँ

लोकप्रिय पोस्ट

मुखिया जी: उमेश कुमार राय

जा ए भकचोन्हर: डॉ. जयकान्त सिंह 'जय'